India

पीएम मोदी का चीन को स्पष्ट संदेश, पूर्वी लद्दाख में पीछे नहीं हटेगा भारत: विशेषज्ञ

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लद्दाख दौरा कर चीन को स्पष्ट संदेश दे दिया है कि भारत किसी भी स्थिति में पीछे हटने वाला नहीं है। वह मजबूती से चीन की हरकतों का जवाब देगा। सामरिक मामलों के विशेषज्ञों ने शनिवार को यह बात कही। उनका कहना है कि सेना देश की सरजमीं की रक्षा करने को लेकर ठोस दृष्टिकोण अपना रही है।
चीन लद्दाख, दक्षिणी चीन सागर और हिंद प्रशांत क्षेत्र में आक्रामक सैन्य मौजूदगी के कारण दुनियाभर में अलग-थलग पड़ता जा रहा है। अब वक्त है कि भारत इसका फायदा उठाए।
पीएम के औचक दौरे की प्रशंसा करते हुए पूर्व सेना उपप्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) सुब्रत साहा ने कहा कि इस यात्रा का सबसे पुरजोर संदेश था कि भारत पूर्वी लद्दाख में पीछे नहीं हटेगा। भारत दृढ़ता से हालात से निपटेगा। भारत में ऐसे प्रधानमंत्री हैं, जो गतिरोध वाली जगह के करीब जाते हैं। गलवां में शहीद जवानों के बलिदान की प्रशंसा करते हैं। वहीं, अगर चीन को देखें तो उसने अपने सैनिकों के हताहत होने तक बात नहीं स्वीकारी। सोचिये कि एक चीनी सैनिक के मन पर क्या असर पड़ा होगा।

रणनीतिक मामलों के विशेषज्ञ डॉ. लक्ष्मण बेहरा ने कहा कि इस दौरे से चीन को दो टूक संदेश गया है कि भारत सीमाओं की रक्षा के लिए दृढ़संकल्प है। भारत इसके लिए भी तैयार है कि चीन को उसके दुस्साहस की बड़ी कीमत चुकानी पड़े। पीएम मोदी ने चीन को ऐसे समय संदेश दिया, जब भारत को हालिया हिंसक झड़प के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी समर्थन मिल रहा है।

दुनिया की महाशक्तियों ने इस मुद्दे पर भारत का साथ दिया है। वहीं, लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) अशोक मेहता ने कहा कि पीएम मोदी ने चीन को बताया कि भारत ने पूर्वी लद्दाख में चीनी हरकतों को बहुत ही गंभीरता से लिया है। चीन को अपनी हरकतों की वजह से बड़ा आर्थिक नुकसान उठाना होगा।

Football news:

मास्सिमो मोराट्टी: इंटर के मालिकों वे मेस्सी लाने की जरूरत है सब कुछ है
Gagliardini पर मैच के साथ Shakhtar: वे मजबूत कर रहे हैं, लेकिन अंतर निर्धारित किया जाता है
चैंपियंस लीग के प्रस्थान पर एटलेटिको मैड्रिड के राष्ट्रपति: नहीं हमारी रात । वे दो बार स्कोर करने के लिए भाग्यशाली रहे थे, हम एक अच्छी टीम है । ^. एटलेटिको राष्ट्रपति एनरिक सेरिजो आरबी लीपज़िगचैंपियंस लीग से टीम के प्रस्थान के बाद बात की थी ।
डिफेंडर ल्यों: हम चैंपियंस लीग के फाइनल तक पहुँचने के बारे में सोच रहे हैं । हम जीतने का एक बहुत अच्छा मौका है
विलियन: आर्सेनल दुनिया में सबसे बड़े क्लबों में से एक है । मैं ट्राफियां इकट्ठा करने के लिए यहाँ हूँ
रेनाल्डो: मेस्सी ने अपने उत्तराधिकारी के साथ मुलाकात करेंगे, लेवंदोवस्की. कौन चैंपियंस लीग, दुनिया में सबसे अच्छा के सेमीफाइनल के लिए जाना जाएगा । ^. पूर्व ब्राजील के मिडफील्डर रिवाल्डो आगे चैंपियंस लीग बार्सिलोना – - बायर्नके 1/4 फाइनल के मैच की बात की थी ।
हबीब: पीएसजी और मैनचेस्टर सिटी खेलेंगे चैंपियंस लीग के फाइनल में । ^. 2019/20-यूएफसी हल्के चैंपियन खैब नूरमगामेदोव चैंपियंस लीग के संभावित फाइनल के बारे में बात की थी ।