मुंबई। फिल्म निर्माता और निर्देशक राजकुमार हिरानी का नाम जैसे जबसे मी टू अभियान में आया है तबसे बॉलीवुड सकते में है। जहां बॉलीवुड के कुछ लोगों ने उनके समर्थन में अपनी बात कही है लेकिन अधिकतर लोग इससे दूर ही रहना चाहते हैं।

मुंबई में एक कार्यक्रम में जब गायक संगीतकार प्रीतम से राजकुमार हिरानी पर लगे आरोपों के बारे में जानना चाहा तो बचाव की मुद्रा में आते हुए प्रीतम ने कहा कि वह इस बारे में कुछ भी नहीं जानते तो वह इस पर कैसे प्रतिक्रिया दे पाएंगे। वहां मौजूद निर्देशक कबीर खान ने भी इस बारे में कुछ भी कहने से मना कर दिया ।

इतना ही नहीं इस कार्यक्रम में पहुंचे करण जौहर ने तो मीडिया के प्रश्नों को सुनना भी गंवारा नहीं समझा और वह मात्र कार्यक्रम से जुड़े प्रश्न का उत्तर देते ही अन्य प्रश्न सुने बिना ही कार्यक्रम छोड़ कर चलते बने। जिसके चलते बॉलीवुड के कलाकारों, निर्देशकों और निर्माताओं के बीच में मी टू का डर कितना घर कर गया है, इस बात से पता चलता है। पिछले दिनों राजकुमार हिरानी ने खुद का बचाव करते हुए कहा था कि वह खुद यह सुनने के बाद सदमे में थे।

गौरतलब है कि हाल ही में राजकुमार हिरानी पर एक महिला ने लैंगिक उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। निर्देशक राजकुमार हिरानी के बारे में जावेद अख्तर ने ट्विट करते हुए कहा है कि वह फिल्म इंडस्ट्री के सबसे शालीन व्यक्ति हैं. उन्होंने कहा है कि वह 1965 में फिल्म इंडस्ट्री में आये. इतने सालों के बाद, अगर उनसे पूछा जाए कि इस इंडस्ट्री में सबसे शरीफ व्यक्ति कौन हैं, तो उनके दिमाग में पहला नाम राजू हिरानी का है. उन्होंने आगे लिखा है कि जीबी शॉ ने कहा है कि ज्यादा अच्छा होना भी ज्यादा खतरनाक होता है.

यह भी पढ़ें: Box Office पर रणवीर- सारा की सिंबा ने 20 दिनों में कर ली इतनी कमाई

Posted By: Manoj Khadilkar