नई दिल्ली, प्रेट्र। उत्तर भारत में मानसून जल्दी ही दस्तक दे सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली एनसीआर में 22 से 23 जून के बीच मानसून आने की संभावना जताई जा रही है। जिसके बाद पूरे उत्तर भारत में मानसून पूरी तरह फैल जाएगा।

मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए कहा कि दिल्ली एनसीआर में आमतौर पर मानसून 27 जून को पहुंचना है। लेकिन उम्मीद है कि समय से 2-3 दिन पहले ही मानसून दिल्ली एनसीआर में पहुंच जाएगा। पश्चिम बंगाल और इसके आसपास मंडरा रहा। एक चक्रवाती परिसंचरण 19 और 20 जून को दक्षिण-पश्चिमी उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ेगा।

मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि उत्तर प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड, राजस्थान और हरियाणा के कई इलाकों में 22 से 23 जून तक पहुंचने वाले मानसून से राहत मिलेगी। 18 और 19 जून तक दिल्ली का मौसम शुष्क रहेगा। इस बीच बुधवार को दिल्ली के अधिकतर हिस्सों में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर रहा।

इस वर्ष सामान्य बारिश की संभावना

आईएमडी ने इस वर्ष देश के उत्तर-पश्चिमी हिस्से में सामान्य बारिश (103%) होने की संभावना जताई है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में 18 और 19 जून को गर्मी बरकरार रहेगी। बुधवार को दिल्ली के ज्यादातर हिस्सों में 40 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा तापमान रिकॉर्ड किया गया।

उत्तर प्रदेश कई इलाकों में बारिश 

वहीं, उत्तर प्रदेश में जोर पकड़ रहे मानसून की वजह से राज्य के अनेक पूर्वी हिस्सों को जमकर बारिश हुई। प्रदेश के खासकर पूर्वी हिस्सों में कई स्थानों पर सुबह से ही झमाझम बारिश का सिलसिला शुरू हो गया जो दोपहर बाद तक जारी रहा। इस बारिश की वजह से मौसम सुहावना हो गया और लोगों को पिछले कई दिनों से पड़ रही चिपचिपी गर्मी से राहत मिली। आंचलिक मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में मानसून पूरी तरह सक्रिय है।

हालांकि पश्चिमी भागों में इसने अभी रफ्तार नहीं पकड़ी है। अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में अनेक स्थानों पर जबकि पश्चिमी भागों में कुछ जगहों पर बारिश होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। कुछ स्थानों पर तेज हवा के साथ गरज-चमक की स्थितियां बन सकती हैं। उसके बाद मानसून और जोर पकड़ेगा। आगामी 19 और 20 जून को प्रदेश के कई इलाकों में बारिश हो सकती है।

मध्य प्रदेश में झमाझम बारिश

 राजधानी भोपाल में झमाझम बरसात, जून में बारिश का छह साल का रिकार्ड टूटा। राजधानी में बुधवार शाम से शुरू हुआ बरसात का सिलसिला रात भर रक-रक कर जारी रहा। गुरवार सुबह तक शहर में इस माह की कुल बारिश का आंकड;ा 167.3 मिमी. तक पहुंच गया। यह जून माह की पिछले छह साल में सबसे अधिक बारिश है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक रक-रक कर हल्की बौछारें पड़ने का दौर अभी जारी रहेगा। 

राजस्थान के कई इलाकों में रेड अलर्ट जारी

जानकारी के लिए बता दें कि राजस्थान के कई इलाकों में भीषण गर्मी के चलते रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। बीते बुधवार को राजस्थान के बीकानेर में तापमान 47 डिग्री दर्ज किया गया।।जिसके बाद मौसम विभाग ने राज्य के कुछ इलाकों में भीषण गर्मी के चलते रिजल्ट जारी कर दिया है।

पंजाब और हरियाणा में अलर्ट जारी

वहीं मौसम विभाग ने पंजाब और हरियाणा में भी अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने कहा कि हरियाणा, पंजाब में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रिकॉर्ड पर दर्ज किया है। हिसार में सबसे ज्यादा गर्म मौसम रहा। जहां तापमान 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आने वाले दिन में यहां पर गर्मी और भी बढ़ सकती है।

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस