India

चयनकर्ताओं को जानना चाहिए कि धोनी के मन में क्या चल रहा: पूर्व सिलेक्टर जगदाले

खेल डेस्क. महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास और उनके क्रिकेट करियर पर लगी अटकलों को लेकर पूर्व राष्ट्रीय सिलेक्टर संजय जगदाले ने शुक्रवार को बयान दिया। उन्होंने धोनी का समर्थन करते हुए कहा कि फिलहाल भारतीय टीम में उनका कोई विकल्प नहीं है। संन्यास का फैसला लेने के लिए वे परिपक्व हैं। एमएसके प्रसाद की अगुआई वाली चयन समिति भी धोनी के भविष्य के बारे में सोच रही है। समिति को यह जानने की कोशिश करनी चाहिए कि धोनी के मन में क्या चल रहा है।

‘धोनी की आलोचना वे कर रहे, जो कभी अच्छा नहीं खेले’

  1. 68 साल के जगदाले ने कहा, “धोनी के मन में भविष्य को लेकर क्या है, यह सिलेक्टर्स को उनसे मिलकर उसी तरह पता करना चाहिए। जिस तरह उन्होंने संन्यास से पहले सचिन तेंदुलकर से बात की थी। सिलेक्टर्स को धोनी को यह भी बताना चाहिए कि वे भविष्य में उन्हें किस भूमिका में देखना चाहते हैं।”

  2. जगदाले ने धोनी के फॉर्म का भी बचाव किया। उन्होंने कहा, “38 साल की उम्र में किसी भी खिलाड़ी से उम्मीद नहीं की जा सकती कि वह उसी ऊर्जा और आक्रामकता के साथ खेलेगा, जैसा वह अपनी युवावस्था में खेलता था। आज धोनी की आलोचना कुछ ऐसे पूर्व क्रिकेटर कर रहे हैं, जो अपने करियर के दौरान अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते थे। सच्चे खिलाड़ी धोनी की असली कीमत जानते हैं।”

  3. धोनी के साथ खेलकर बहुत कुछ सीख सकते थे पंत

    जगदाले ने कहा कि भारतीय टीम के भविष्य को देखते हुए विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को पर्याप्त मौके दिए जाने चाहिए थे। पंत को वर्ल्ड कप से पहले ही वनडे टीम में धोनी के साथ शामिल किया जाना चाहिए था। धोनी के साथ खेलकर पंत बहुत कुछ सीख सकते थे।

  4. दोस्त ने कहा- विंडीज दौरे पर नहीं जाएंगे धोनी

    2011 में वर्ल्ड कप जिताने वाले धोनी की मौजूदा फॉर्म को लेकर काफी चर्चा हो रही। चयन समिति मुंबई में रविवार को वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का चयन करेगी। ऐसे में फैन्स की नजर धोनी पर होगी। हालांकि, धोनी के दोस्त और पूर्व रणजी खिलाड़ी मिहिर दिवाकर ने बताया है कि धोनी वेस्टइंडीज दौरे पर नहीं जाएंगे। बल्कि वे आर्मी को समय देंगे।

  5. धोनी ने वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में अर्धशतक लगाया था

    धोनी ने अपनी कप्तानी में भारत को वर्ल्ड कप, टी-20 वर्ल्ड कप और चैंपियंस ट्रॉफी जिताई है। इस साल वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में धोनी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 50 रन बनाए थे। धोनी और रवींद्र जडेजा ने 116 रन की साझेदारी कर जीत की उम्मीद जगाई थी। धोनी की इस पारी को सराहा गया था। हालांकि, भारत यह मैच हार गया।

  6. धोनी ने भारत के लिए 350 वनडे, 90 टेस्ट, 98 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। उन्होंने 10,773 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 50 से ज्यादा रहा। टेस्ट मैचों में धोनी ने 38.09 की औसत से 4876 रन बनाए हैं।

Football news:

साउथेम्प्टन के 96 मिनट के लक्ष्य पर सुलशर: मैनचेस्टर यूनाइटेड को इस तरह के खेल का एक बहुत जीता । यह फुटबॉल है
जुवेंटस 8 अंक अधिक है, साथ 6 अधिक राउंड खेलने के लिए
साउथेम्प्टन के साथ ड्रा पर मगुआएर: हम इस खेल को नियंत्रित किया और जीतने के लिए पर्याप्त था । ^. मैनचेस्टर यूनाइटेड के कप्तान हैरी मगुआएर साउथेम्प्टन के साथ ड्रॉ के बारे में बात की थी । ^. हम निराश हो जाते हैं. हम इस खेल को नियंत्रित, इसे खत्म करने के लिए अवसरों का एक बहुत कुछ था. हम सबसे अच्छा फुटबॉल खेलने नहीं दिया, हम चीजों की एक बहुत कुछ जोड़ सकते हैं । हम खुद के बारे में सोचना होगा, लेकिन हम जीतने के लिए पर्याप्त था ।
माराडोना विश्व कप का चेहरा-94 100 मिलियन डॉलर के लिए बन सकता है. डिएगो इनकार कर दिया-अनुबंध अमेरिकी नागरिकता लेने के लिए उसे आवश्यक
, शुरुआती के लिए अपने 19 वीं ला लिगा गोल किया । मेस्सी है 22
बेलोटी 43 साल में पहली टोरिनो खिलाड़ी लगातार दो सत्रों में कम से कम 15 गोल स्कोर करने के लिए है । ^. इतालवी खिलाड़ी के लिए, इस लक्ष्य सेरी ए बेलोटी के चालू सीजन में 15 वीं 43 साल के लिए, लगातार दो सत्रों में कम से कम 15 गोल स्कोर करने के लिए ट्यूरिन क्लब के पहले खिलाड़ी बन गए है ।
मार्शल प्रीमियर लीग में 50 गोल स्कोर करने के लिए दसवें मैनचेस्टर यूनाइटेड खिलाड़ी बन गए । ^. मैनचेस्टर यूनाइटेड आगे एंथोनी मार्शल साउथेम्प्टन के खिलाफ एक गोल किया । ^. फ्रांसीसी के लिए, इस लक्ष्य प्रीमियर लीग में मैनचेस्टर यूनाइटेड में 50 वीं थी । उन्होंने कहा कि इस निशान तक पहुंचने के लिए दसवें खिलाड़ी बन गए ।